शुक्र गोचर के दौरान करें ये 9 बेहद ही आसान उपाय तो प्रसन्न होंगे शुक्र देवता।

शुक्र संस्कृत का एक शब्द है जिसका अर्थ होता है शुद्ध और स्वच्छ। ज्योतिष शास्त्र में शुक्र की गिनती नवग्रह के बीच होती है। शुक्र की सबसे ख़ास बात यह है कि यह सभी ग्रहों में सबसे चमकीला ग्रह होता है।  जितना चमकीला यह ग्रह है उतनी ही चमक ये आपके जीवन में भी बिखेरता है। यह शुक्र ग्रह ही है जो सुनिश्चित करता है कि आपके लव लाइफ में मिठास बनी रहे। ये शुक्र ही है जो बताता है कि आपका आपके पार्टनर के साथ सम्बन्ध कैसा बना रहेगा। 

जीवन की दुविधा दूर करने के लिए विद्वान ज्योतिषियों से करें फोन पर बात और चैट 

शुक्र भौतिक सुखों का भी स्वामी है। अगर किसी जातक का शुक्र मजबूत है तो उसका जीवन सुखमय बना रहता है लेकिन अगर शुक्र कमजोर है तो न सिर्फ आपको आपके वैवाहिक जीवन या लव लाइफ में दिक्कतें आती हैं बल्कि सामाजिक और आर्थिक दृष्टिकोण से भी यह आपको बहुत हानि पहुंचाता है। यही वजह है कि  ज्योतिष शास्त्र में  शुक्र के गोचर और उसकी स्थिति को विशेष महत्व दिया जाता रहा है। 

शुक्र की बात इसलिए छिड़ी क्योंकि इस साल यानी कि साल 2021 के 17  मार्च को कुछ ख़ास हो रहा है। दरअसल 17 मार्च को शुक्र ग्रह अपनी उच्च मीन राशि में गोचर कर रहा है। ऐसी स्थिति में हम आज आपको वो सरल उपाय बता रहे हैं जिसको कर के आप इस गोचर की अवधि के दौरान शुक्र देव को प्रसन्न कर सकते हैं। 

शुक्र गोचर की तिथि और अवधि :

कब से: 17 मार्च 2021 

दिन: बुधवार

समय: 02 बजकर 49 मिनट से

कब तक: 10 अप्रैल 2021

दिन: शनिवार

समय : 06 बजकर 15 मिनट तक

शुक्र देव को प्रसन्न करने के उपाय:

पहला उपाय : 

शुक्रवार के दिन व्रत रखने से शुक्र देवता प्रसन्न होते हैं। 

दूसरा उपाय :

चूंकि सफ़ेद रंग शुक्र का कारक रंग है इसलिए शुक्रवार के दिन सफ़ेद वस्त्र धारण करने से भी शुक्र देवता प्रसन्न होते हैं।

विशेषज्ञ ज्योतिषियों से किसी भी सवाल का जवाब जानने के लिए प्रश्न पूछ सकते हैं, और साथ ही जीवन में सही दिशा भी पा सकते हैं।

तीसरा उपाय :

दान का हिन्दू धर्म में विशेष महत्व है। ऐसे में आप शुक्र को प्रसन्न करने के लिए सफ़ेद चीजों का दान करें जैसे कि दूध, दही, घी, कपूर, मोती इत्यादि। कोशिश करें कि शुक्रवार के दिन दान करते वक़्त सफ़ेद वस्तुओं के साथ शक्कर और दक्षिणा रखकर किसी नाबालिग कन्या या फिर किसी एक आंख वाले व्यक्ति को दान करें। इससे शुक्र देवता आपकी ओर आकर्षित होंगे।

चौथा उपाय :

शुक्र को प्रसन्न करने के लिए आप हीरा, स्फटिक या फिर अमेरिकी हीरा भी अपनी मध्यमा ऊँगली में धारण कर सकते हैं लेकिन ऐसा करने से पहले एक बार किसी ज्योतिषी की  सलाह अवश्य ले लें।

पांचवा उपाय :

भोजन करते समय उसका कुछ हिस्सा निकाल कर रख दें। भोजन से निकाला हुआ हिस्सा गाय, कुत्ते या कौवे को खिलाएं। इससे शुक्र देवता बहुत प्रसन्न होते हैं।

यह भी पढ़ें: 17 मार्च को उच्च राशि में होगा शुक्र का गोचर, क्या होगा मीन राशि पर प्रभाव?

छठा उपाय :

“ॐ शुं शुक्राय नम:” के मंत्र का जाप करने से भी शुक्र देवता प्रसन्न होते हैं।

सातवां उपाय :

शुक्रवार के दिन माँ लक्ष्मी की  आराधना करें। इससे घर में धनवर्षा के योग बनेंगे। माँ लक्ष्मी के प्रसन्न होने से शुक्र भी प्रसन्न होते हैं।

आठवां उपाय :

इस अवधि के दौरान किसी अन्य के पालन-पोषण की जिम्मेदारी लें। 

नौंवा उपाय :

शुक्र ग्रह को प्रसन्न करने के लिए अपने घर और शरीर को साफ़-सुथरा रखें। साफ़ कपडे पहनें। ऐसा करने से शुक्र देव की कृपा बरसती है।

अगर इस गोचर की  अवधि में आप ये नौ उपाय अपनाते हैं तो अवश्य ही शुक्र देव की कृपा आपके ऊपर बरसेगी। आपका पारिवारिक जीवन सुखमय होगा और आप आर्थिक रूप से भी मजबूत होंगे। हम उम्मीद करते हैं कि हमारा यह लेख आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा। ऐसे में इस लेख को आप अपने शुभचिंतकों के साथ भी साझा कर सकते हैं।

हमें उम्मीद है कि आपको हमारा यह लेख बेहद पसंद आया होगा। हम आशा करते हैं कि आप इसी तरह हमारे साथ बने रहेंगे।

Astrology

Dharma

विष्णु मंत्र - Vishnu Mantra

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

12 Jyotirlinga - 12 ज्योतिर्लिंग

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

सिद्ध कुंजिका स्तोत्र - Kunjika Stotram: दुर्गा जी की कृपा पाने का अचूक उपाय

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

51 Shakti Peeth - 51 शक्तिपीठ

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

बजरंग बाण: पाठ करने के नियम, महत्वपूर्ण तथ्य और लाभ

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.