रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी को लेकर क्या कहता है ज्योतिष विज्ञान?

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में आयेदिन कोई नया खुलासा, कोई नया एंगल, कोई नया ‘अभियुक्त’, कोई नया मोड़ देखने को मिल रहा है। हालाँकि 13 से 14 जून की रात और दिन के समय में क्या हुआ किसी को कुछ नहीं पता। इस समय केस की सारी सुईयाँ सुशांत सिंह की पूर्व गर्लफ्रेंड रह चुकी एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती पर टिकी हुई हैं। 

ऐसे में सबके मन में सवाल यही है कि क्या वाकई में रिया दोषी हैं? अगर हाँ, तो क्या उन्हें जेल होगी? क्या उन्हें सज़ा भुगतनी पड़ेगी या कोई तिकड़म बिठा कर वो इस केस से बच निकलने में सफल होंगीइसी मुद्दे पर देश के जाने-माने ज्योतिषी आचार्य रमन ने गहन अध्ययन के बाद विश्लेष्ण किया हैजानकारी के लिए बता दें कि आचार्य रमन ने इससे पहले  विकास दुबे एनकाउंटर पर भविष्यवाणी दी थी जो सच साबित हुई थी

तो आइये जानते हैं कि, ज्योतिष रिया चक्रवर्ती के बारे में क्या कुछ बताने वाला है।

“मुझे किसी की सामाजिक मान-प्रतिष्ठा आदि को नुकसान पहुंचाने में कोई दिलचस्पी नहीं है,  लेकिन मीडिया में आ रही खबरों और सुशांत सिंह राजपूत के दुखद निधन में आने वाले नए कोणों के साथ, जिन्होंने फिल्म में एक शानदार भूमिका निभाई M.S.Dhoni में , मैं ज्योतिषीय रूप से यह पता लगाने की कोशिश कर रहा हूं कि क्या आत्महत्या करने या स्वर्गीय सुशांत सिंह राजपूत की कथित हत्या के लिए दोषी पाए जाने पर रिया चक्रवर्ती को कैद होगी?

अंक ज्योतिष के आधार पर विश्लेष्ण 

आइए सबसे पहले उनकी  संख्याओं को देखें, उसका जन्म 1-07-1992 को हुआ था जो कुल 29 है। उसकी जन्मदिन की संख्या 1, डेस्टिनी संख्या 29, है जो 2 से आती है।

उपयोग में उसका नाम रिया है जो 4 है जो फिर से चालडीयन अंकशास्त्र में माना जाने वाला एक बहुत बुरा और खराब नंबर है। विशेष रूप से स्त्रियों के निजी संबंधों में यह बहुत बुरा माना जाता है| ऐसी स्त्री अपने प्रेमी या पति को हमेशा दबाने का प्रयास करती है ऐसा पुस्तकों में वर्णन है| 

29: यह संख्या अनिश्चितताओं, विश्वासघात और दूसरों के धोखे को इंगित करती है। यह परीक्षणों, क्लेश, और अप्रत्याशित खतरों, अविश्वसनीय मित्रों और विपरीत लिंग के सदस्यों के कारण होने वाले दुःख और धोखे का पूर्वाभास देता है। अगर यह भविष्य में होने वाली घटनाओं के संबंध में कुछ भी सामने आता है तो यह गंभीर चेतावनी देता है। ”

और हम वर्तमान परिदृश्य में भी यही देख रहे हैं। जब तक सीबीआई और हमारी न्याय प्रणाली द्वारा अंतिम परिणाम नहीं आता है, तब तक हम कुछ भी नहीं कह सकते हैं, लेकिन संख्या 29 वास्तव में मेरे अपने व्यक्तिगत अनुभव में भी एक बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण संख्या है।

करियर की हो रही है टेंशन! अभी आर्डर करें कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट

रिया चक्रवर्ती का कुंडली विश्लेष्ण 

मैं किसी से बात कर रहा था और उस व्यक्ति को यह जानने में दिलचस्पी थी कि क्या होने वाला है? क्या वह आने वाले समय में रिया जेल जाएगी या अन्य लोगों की तरह बच जायेगी? हम इतने दिनों से काले जादू, अंडरवर्ल्ड, ड्रग्स, सेक्स रैकेट की कहानियां  जो बॉलीवुड के दिग्गजों, पड़ोसियों, और पता नहीं किन-किन लोगों ने समाचार चैनल्स पर सुनाई हैं, को सुनते आ रहे हैं| बॉलीवुड के बारे में सोचने के लिए कुछ बहुत ही गंदा और घिनोना सा लगता है।

यह ध्यान रखना चाहिए कि इस समय बृहस्पति वक्री  है, शनि वक्री  है इसलिए चीजें तब तक धुंधली रहेंगी जब तक कि वे मार्गी नहीं हो जाते  हैं जो कि सितंबर 2020 के अंत में होगा।

उसने मुझे इस सवाल का जवाब जानने के लिए 1 से 249 के बीच एक नंबर दिया कि क्या वह कैद होगी? नीचे कुंडली है, संख्या 99 है।

RHEA HINDI

जन्म कुंडली में 12 वें भाव का उप नक्षत्र  स्वामी चंद्रमा है। चंद्रमा 12 वें भाव पर शासन कर रहा है। वह चतुर्थ भाव में है|  चंद्रमा केतु स्टार में है। 12 वाँ भाव  कर्क राशि में और बुध के तारा में है। राहु बुध की राशि और उप नक्षत्र  में गोचर कर रहा है। यह 8 वें भाव में स्थिर मंगल के सितारे में है। बुध को 12 वें भाव में ही है। इस प्रकार उक्त कुंडली में 12 वें भाव के साथ राहु का संबंध है। चन्द्रमा बुध के उप में 4 भाव में है। राहु शुक्र के साथ युति योग में भी है।

12 वें घर को कई चीजों के लिए देखा जाता है और उनमें से कारावास एक है।

केतु दशा और बुध का अंतर प्रश्न चार्ट में चल रहा है। केतु केतु स्टार में और शुक्र के उप नक्षत्र में है जो 11 वें भाव में है। अंतरा स्वामी बुध शुक्र के सितारे में है और बृहस्पति के उप नक्षत्र में है , बृहस्पति और चंद्रमा, राहु को देख रहे हैं जो 12 वें घर से जुड़ा है। गुरु चंद्रमा केतु की युति है |

इस प्रकार यहाँ हम देखते हैं कि घरों और ग्रहों के बीच एक बहुत ही भ्रामक संबंध है जो कि वास्तविकता में भी है, अर्थात इस बात से संबंधित बहुत भ्रम है कि उसे जेल होगी या नहीं क्योंकि रोज़ाना तस्वीर में कुछ नया कोण आ रहा है।

23 सितंबर को राहु और केतु राशी  बदलने जा रहे हैं, शनि और बृहस्पति 23 और 29 सितंबर को मार्गी  हो जायेंगे । मंगल 10 सितम्बर को  वक्री  हो जाएगा।

रूलिंग  ग्रह  सूर्य, शुक्र, बृहस्पति, केतु, शुक्र हैं।

राज योग रिपोर्ट से पाएं कुंडली में मौजूद सभी राज योग की जानकारी

निष्कर्ष

सभी सादगी और अनुमानों के साथ, इस चार्ट का मेरा विश्लेषण इस प्रकार है:

  1. वह आने वाले समय में किसी गंभीर शारीरिक चोट/स्वास्थ्य समस्या से पीड़ित हो सकती है।
  2. वह अचानक गायब हो सकती  है।
  3. यदि उपरोक्त दो खण्ड नियति द्वारा पूरा नहीं किए जाते हैं तो उसे जेल हो जाएगी।
  4. उसके पिता को कोई सदमा अचानक पहुँच सकता है 

यह सब हम जून 2021 के अंत तक देखेंगे।

कॉल पर आचार्य रमन जी से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: एस्ट्रोसेज ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

हम आशा करते हैं कि हमारा यह लेख आपको अवश्य पसंद आया होगा। एस्ट्रोसेज के साथ जुड़े रहने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

Spread the love

Astrology

Dharma

विष्णु मंत्र - Vishnu Mantra

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

12 Jyotirlinga - 12 ज्योतिर्लिंग

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

सिद्ध कुंजिका स्तोत्र - Kunjika Stotram: दुर्गा जी की कृपा पाने का अचूक उपाय

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

51 Shakti Peeth - 51 शक्तिपीठ

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

बजरंग बाण: पाठ करने के नियम, महत्वपूर्ण तथ्य और लाभ

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

2 टिप्पणियाँ

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.