SRH Vs MI (6th April): IPL 2019 आज के मैच की भविष्यवाणी

आईपीएल 2019 में आज का मैच सनराइजर्स हैदराबाद और मुंबई इंडियंस के बीच खेला जाएगा। यह मुकाबला 6 अप्रैल को हैदराबाद के राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में भारतीय समयानुसार रात 8 बजे से खेला जाएगा। एसआरएच और मुंबई इंडियंस के बीच खेले जाने वाला यह मुकाबला बेहद ही रोमांचक होने वाला है। सनराइजर्स हैदराबाद आईपीएल की मजबूत टीम है और वह अपने गढ़ में विपक्षी टीम पर हावी रहती है। इसलिए मुंबई इंडियंस को उसी के घरेलू मैदान में हरा पाना आसान नहीं होगा। बहरहाल इस मुकाबले में दर्शकों को बेहद रोमांच देखने को मिलने वाला है। आइए जानते हैं इस मुकाबले को लेकर ज्योतिषीय भविष्यवाणी आखिर क्या कहती है।

19th-ipl-2019-match-prediction

यदि आप क्रिकेट और आईपीएल से जुड़ी भविष्यवाणियों के नोटिफ़िकेशन अपने मोबाइल फ़ोन पर पाना चाहते हैं, तो कृपया देखें–
क्रिकेट की भविष्यवाणियाँ सब्सक्राइब करें

सनराइजर्स हैदराबाद बनाम मुंबई इंडियंस के बीच होने वाले मैच की ज्योतिषीय भविष्यवाणी

सनराइजर्स हैदराबाद और मुंबई इंडियंस के बीच होने वाले मैच की भविष्यवाणी प्रश्न कुंडली पर आधारित है। यहाँ हम यह स्पष्ट कर देते हैं कि प्रश्न कुंडली के लिए पूछा गया प्रश्न मुंबई इंडियंस के लिए है। इसलिए आज के मैच की ज्योतिषीय भविष्यवाणी मुंबई इंडियंस के ऊपर प्रभावी होगी। ज्योतिष विज्ञान में इस तरह की भविष्यवाणी को देखने के लिए लग्न भाव, लग्नेश, षष्टम भाव और षष्टम भाव के स्वामी का विचार किया जाता है।

19th-ipl-hi

कुंडली के लग्न भाव में दशम भाव के स्वामी चंद्रमा की दृष्टि है। चंद्रमा सप्तम भाव में मेष राशि में स्थित है। यह स्थिति चंद्रमा के लिए शुभ नहीं है। क्योंकि चंद्रमा जल तत्व के कारक हैं तो मेष राशि अग्नि तत्व को दर्शाती है। इसलिए बलहीन चंद्रमा की दृष्टि लग्न भाव को भी पीड़ित कर रही है। कुंडली में लग्न भाव का स्वामी शुक्र पंचम भाव में स्थित है। यह स्थान शुक्र के लिए अच्छा है लेकिन वह 12वें भाव (हानि भाव) के स्वामी बुध ग्रह के साथ युति उसके लिए ठीक नहीं है। इसके अलावा तीसरे भाव से शनि भी शुक्र को देख रहा है। यह स्थिति भी शुक्र के लिए अशुभ है।

वहीं छठे भाव पर दृष्टि डालें तो, इसमें मीन राशि स्थित है और सूर्य विराजमान है। सूर्य का मीन राशि में होना छठे भाव को कमज़ोर बनाता है। क्योंकि सूर्य मीन राशि में स्वयं को अशुभ पाता है। मीन और सूर्य के बीच विरोधाभास की स्थिति रहती है। क्योंकि मीन जल तत्व को दर्शाता है तो वहीं सूर्य अग्नि तत्व का सबसे बड़ा स्रोत है। यानि की कुंडली का छठा भाव भी पीड़ित है।

वहीं छठे भाव का स्वामी गुरु तीसरे भाव में बैठा है। यह भाव शक्ति संघर्ष का भाव है। लिहाज़ा इस भाव में गुरु की उपस्थिति शुभ नहीं है। यहाँ गुरु अपनी स्वराशि (धनु) में बैठा है जो कि शुभ तो है परंतु शनि केतु का साथ उसे कमज़ोर बना रहा है। इसके अलावा आठवें भाव से मंगल की दृष्टि भी गुरु को बलहीन करती है। ऐसी स्थिति में यह कहा जा सकता है कि इस मैच में मुंबई इंडियंस को हार का सामना करना पड़ सकता है।

विजेता टीम : इस मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद के जीतने की प्रबल संभावना है।

क्रिकेट की भविष्यवाणियाँ सब्सक्राइब करें

डिस्क्लेमर : हम यह स्पष्ट करते हैं कि मैच के संबंध में दी जा रही यह भविष्यवाणी अकादमिक और शोध के उद्देश्य से की गई है। इसके जरिये हम किसी भी तरह के गैरकानूनी कार्य जैसे- सट्टा और मैच फिक्सिंग को बढ़ावा नहीं देते हैं। कृपया इस तरह के गलत कार्यों से बचने की कोशिश करें।

Astrology

Dharma

विष्णु मंत्र - Vishnu Mantra

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

12 Jyotirlinga - 12 ज्योतिर्लिंग

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

सिद्ध कुंजिका स्तोत्र - Kunjika Stotram: दुर्गा जी की कृपा पाने का अचूक उपाय

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

51 Shakti Peeth - 51 शक्तिपीठ

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

बजरंग बाण: पाठ करने के नियम, महत्वपूर्ण तथ्य और लाभ

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.