कैप्टन कूल ‘माही’ का चेन्नई की तरफ से आखिरी मैच? ज्योतिष खोलेगा धोनी के भूत-भविष्य-वर्तमान के राज़!

हम सभी जानते हैं कि आईपीएल 2023 का फाइनल बीते रविवार यानी कि 28 मई 2023 को खेला जाना था, लेकिन बारिश की वजह से अब यह आज 29 मई 2023 को खेला जाएगा। फैंस अपने पसंदीदा खिलाड़ी धोनी को खेलता हुआ देखने के लिए देशभर से अहमदाबाद पहुंचे हैं क्योंकि उन सबके मन में कहीं न कहीं डर है कि यह मैच टीम चेन्नई के कप्तान के रूप में धोनी का आख़िरी मैच हो सकता है। आपको बता दें कि इससे पहले धोनी ने रिज़र्व डे पर जो मैच खेला था वह वर्ष 2019 के वर्ल्डकप का सेमीफाइनल था और नीली जर्सी पहने एमएस धोनी का वह अंतिम मैच था। हालांकि, यह सिर्फ कयास लगाए जा रहे हैं क्योंकि अभी यह स्पष्ट नहीं है। यदि आप और हम भाग्यशाली रहे, तो अगले साल भी हम चेन्नई टीम की अगुवाई करते हुए भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को देखेंगे। अब हम आगे बढ़ते हैं और नज़र डालते हैं क्रिकेट जगत में एमएस धोनी के अभी तक के सफर पर और जानते हैं कि कैसे रांची का एक आम लड़का बन गया क्रिकेट जगत का जगमगाता सितारा। 

Varta Astrologers

दुनियाभर के विद्वान ज्योतिषियों से करें फ़ोन पर बात और जानें करियर संबंधित सारी जानकारी

एमएस धोनी: एक नए युग का आरंभ 

क्रिकेट की दुनिया में महेंद्र सिंह धोनी को “बेस्ट फिनिशर” के नाम से जाना जाता है। इनकी गिनती महान कप्तानों में और सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर बल्लेबाज़ों में होती हैं। इन्होने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत वर्ष 2004 में पाकिस्तान के खिलाफ 148 रन की शानदार पारी खेलकर और भारत को जीत दिलाकर की थी। इसी के साथ, धोनी ने वन डे इंटरनेशनल क्रिकेट में अपनी जगह बनाई। श्रीलंका के खिलाफ खेली गई धोनी की 183 रनों (नॉट आउट) की पारी से विश्व का ध्यान अपनी तरफ खींचा और इसके बाद जो हुआ उससे हम सभी वाकिफ़ है। जब-जब भारतीय क्रिकेट टीम मुसीबत में फंसी धोनी ने उस मुश्किल घड़ी में टीम को संभाला और सबसे भरोसेमंद खिलाड़ी के रूप में अपनी जगह पक्की की। इसी के साथ ही वह इंडियन टीम के कप्तान बन गए। महेंद्र सिंह धोनी 2007 से लेकर 2017 तक भारतीय टीम के कप्तान बने रहें और इस दौरान भारतीय टीम ने कई खिताबों को अपने नाम किया। एमएस धोनी अकेले ऐसे कप्तान हैं जिन्होंने वर्ल्ड कप के तीनों फॉर्मेटों में जीत दर्ज की है। इन्होने वर्ल्ड कप 2011 में,  टी-20 वर्ल्ड कप 2007 में और चैंपियंस ट्रॉफी 2013 में जीती थी।

बृहत् कुंडली में छिपा है, आपके जीवन का सारा राज, जानें ग्रहों की चाल का पूरा लेखा-जोखा

एमएस धोनी का क्रिकेट में योगदान

अगर हम कहें कि धोनी की नज़रें बाज की तरह तेज़ हैं और स्टंप के पीछे इनकी फुर्ती देखने लायक होती हैं जिसके दम पर वह हारे हुए मैच को भी जीत में बदलने की क्षमता रखते हैं। एमएस धोनी के उस ऐतिहासिक शॉट को भला कौन भूल सकता है जिसने साल 1983 के बाद 2011 में हमें वर्ल्ड कप दिलाया। 

कुछ ही वर्षों में, धोनी अपनी उपलब्धियों के साथ दुनिया के सबसे प्रसिद्ध खिलाड़ी बन गए और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के खिलाड़ियों के साथ-साथ दुनियाभर में इनके चाहने वालों की संख्या अनगिनत है। लेकिन कभी आपने सोचा है कि कैसे रांची का एक आम लड़का रातोंरात क्रिकेट की दुनिया का जाना-माना नाम बन गया? यहां पर ज्योतिष महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है। आइये बात करते हैं धोनी की जन्म कुंडली के बारे में जिसमें कई रहस्य छिपे हुए हैं। 

नये साल में करियर की कोई भी दुविधा कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट से करें दूर  

एमएस धोनी की कुंडली में बने हैं कई शक्तिशाली योग  

जैसे कि हम ऊपर देख रहे हैं कि धोनी का कन्या लग्न है और लग्न भाव के स्वामी के रूप में बुध की स्थिति दसवें भाव को मज़बूत बना रही है जो कि उनकी कुंडली में भद्रा योग का निर्माण कर रहे हैं। साथ ही, मिथुन राशि के दसवें भाव में बुध और सूर्य मिलकर बुधादित्य योग बना रहे हैं। हालांकि, पांचवें भाव के स्वामी शनि की दृष्टि बुध पर है जबकि बृहस्पति और चंद्रमा शनि के साथ पहले भाव में विराजमान है जो कि गजकेसरी योग का निर्माण कर रहे हैं। वहीं, दूसरे भाव के स्वामी के रूप में शुक्र राहु के साथ ग्यारहवें भाव में बैठे हैं और यह दोनों मिलकर धन योग बना रहे हैं। इस योग से अपार धन-संपदा और प्रसिद्धि का आशीर्वाद मिलता है जो कि धोनी ने अपने करियर में ख़ूब कमाई है। ऐसे में, आगे की राह उनके लिए आशाजनक नज़र आ रही है और क्रिकेट को अलविदा कहने के बाद भी वह किसी उच्च प्रशासनिक अधिकारी के रूप में क्रिकेट से जुड़े रह सकते हैं। एस्ट्रोसेज इस महान खिलाड़ी को भविष्य के लिए शुभकामनाएं देता है और इनके लाखों-करोड़ों फैंस की तरह हम भी चाहते हैं कि एक खिलाड़ी, एक कप्तान के रूप में इनकी पारी का कभी अंत न हो। हम आशा करते हैं कि महेंद्र सिंह धोनी भविष्य में भी इसी तरह अपनी चमक बिखरते रहें। 

निष्कर्ष:

क्रिकेट जगत के महान खिलाड़ी एमएस धोनी जो “कैप्टन कूल” के नाम से भी जाने जाते हैं और इन्हें हम टीवी स्क्रीन पर देखते आए हैं। अब यह क्रिकेट के सभी फोर्मट्स को अलविदा कह रहे हैं और बेशक, इस बात को स्वीकार करना हम सभी के लिए थोड़ा मुश्किल होगा। धोनी का क्रिकेट से संन्यास लेना हमारे चेहरे पर एक उदासी लेकर आ जाता है। हालांकि, यह अभी तक स्पष्ट नहीं है कि हम महेंद्र सिंह धोनी को अगले आईपीएल में खेलते हुए देख पाएंगे या नहीं। हम आशा करते हैं कि आने वाले सालों में भी हम धोनी को मैदान पर खेलते हुए देखते रहें। 

सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह लेख ज़रूर पसंद आया होगा। अगर ऐसा है तो आप इसे अपने अन्य शुभचिंतकों के साथ ज़रूर साझा करें। धन्यवाद!

Dharma

बजरंग बाण: पाठ करने के नियम, महत्वपूर्ण तथ्य और लाभ

बजरंग बाण की हिन्दू धर्म में बहुत मान्यता है। हनुमान जी को एक ऐसे देवता के रूप में ...

51 शक्तिपीठ जो माँ सती के शरीर के भिन्न-भिन्न अंगों के हैं प्रतीक

भारतीय उप महाद्वीप में माँ सती के 51 शक्तिपीठ हैं। ये शक्तिपीठ माँ के भिन्न-भिन्न अंगों और उनके ...

सिद्ध कुंजिका स्तोत्र (Kunjika Stotram) से पाएँ दुर्गा जी की कृपा

सिद्ध कुंजिका स्तोत्र एक ऐसा दुर्लभ उपाय है जिसके पाठ के द्वारा कोई भी व्यक्ति पराम्बा देवी भगवती ...

12 ज्योतिर्लिंग: शिव को समर्पित हिन्दू आस्था के प्रमुख धार्मिक केन्द्र

12 ज्योतिर्लिंग, हिन्दू आस्था के बड़े केन्द्र हैं, जो समूचे भारत में फैले हुए हैं। जहाँ उत्तर में ...

दुर्गा देवी की स्तुति से मिटते हैं सारे कष्ट और मिलता है माँ भगवती का आशीर्वाद

दुर्गा स्तुति, माँ दुर्गा की आराधना के लिए की जाती है। हिन्दू धर्म में दुर्गा जी की पूजा ...

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *