जानें कौन हैं छठ माता और क्यों करते है इनकी पूजा !

चार दिनों तक चलने वाला त्यौहार “छठ पूजा” दुनिया के सबसे कठिन व्रतों में से एक है। छठ पूजा व्रत को करने के नियम बहुत ही कठ‍िन है, इसी वजह से इसे महापर्व और महाव्रत के नाम से भी संबाेध‍ित करते हैं। दिवाली के 6 दिन बाद कार्तिक शुक्ल को छठ पूजा मनाई जाती  है। इस त्योहार में साफ-सफाई का खास ध्यान रखा जाता है। 

इस साल 31 अक्टूबर से छठ पूजा की शुरुआत हो रही है। इस पूजा में सूर्य देवता और छठ माता की आराधना की जाती है। सूर्य देवता के विषय में तो सभी जानते हैं, लेकिन छठ माता कौन हैं, इस बारे में बहुत कम ही लोगों को पता है। तो चलिए आज इस लेख में आपको बताते हैं, कि आखिर छठ माता कौन हैं और सूर्य देव से इनका क्या संबंध है –  

कौन हैं छठ माता 

पौराणिक कथाओं के अनुसार छठ माता और सूर्य देव रिश्ते में भाई-बहन हैं और उन्हीं को प्रसन्न करने के लिए गंगा-यमुना या किसी भी पवित्र नदी या तालाब के किनारे छठ पूजा की जाती है। षष्ठी मां यानी कि छठ माता बच्चों की रक्षा करने वाली देवी मानी जाती हैं। मार्कण्डेय पुराण में इस बात की जानकारी दी गयी है, कि सृष्ट‍ि की देवी “प्रकृति” ने अपने आप को छह हिस्सों में विभाजित किया है। इनके छठे अंश को सर्वश्रेष्ठ मातृ देवी के रूप में जाना जाता है, जो कि ब्रह्मा की मानस पुत्री हैं। कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की षष्ठी को इन्हीं की पूजा की जाती है। बच्चे के जन्म के छह दिनों के बाद भी इन्हीं देवी को लोग पूजते हैं। सच्चे मन से छठ व्रत को करने से संतान को लंबी आयु, स्वास्थ्य और  सफलता का वरदान मिलता है। कुछ लोगों का यह भी मानना है कि पुराणों में इन्हीं देवी का नाम कात्यायनी बताया गया है, जिनकी नवरात्रि के दौरान षष्ठी तिथ‍ि को पूजा की जाती है। 

यह भी पढ़ें –

जानें इस गांव के बारे में, जहाँ द्रौपदी ने की थी छठ पूजा !

“पचमठा मंदिर” जहाँ दिन में 3 बार रंग बदलती है माँ लक्ष्मी की प्रतिमा !

Spread the love
पाएँ ज्योतिष पर ताज़ा जानकारियाँ और नए लेख
हम वैदिक ज्योतिष, धर्म-अध्यात्म, वास्तु, फेंगशुई, रेकी, लाल किताब, हस्तरेखा शास्त्र, कृष्णमूर्ती पद्धति तथा बहुत-से अन्य विषयों पर यहाँ तथ्यपरक लेख प्रकाशित करते हैं। इन ज्ञानवर्धक और विचारोत्तेजक लेखों के माध्यम से आप अपने जीवन को और बेहतर बना सकते हैं। एस्ट्रोसेज पत्रिका को सब्स्क्राइब करने के लिए नीचे अपना ई-मेल पता भरें-

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.