DC Vs KKR (30th March): IPL 2019 आज के मैच की भविष्यवाणी

आईपीएल 2019 का दसवाँ मुकाबला दिल्ली कैपिटल्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच होगा। यह मैच 30 मार्च को भारतीय समयानुसार रात्रि 8 बजे से दिल्ली के फिरोज शाह कोटला मैदान में खेला जाएगा। दिल्ली कैपिटल्स अपने होम ग्राउंड में केकेआर को मात देना चाहेगी। लेकिन पिछले ही मैच में दिल्ली की टीम को अपने घरेलू मैदान में चेन्नई सुपर किंग्स के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। जहाँ तक कोलकाता की टीम का सवाल है तो कोलकाता नाइट राइडर्स की बॉलिंग और बैटिंग लाइन दोनों ही मजबूत हैं। लिहाजा इस मैच में दिल्ली कैपिटल को उसे हराना आसान नहीं होगा। बहरहाल, मैच का नतीज़ा जो भी हो, लेकिन दर्शकों को इस मैच में खूब मजा आने वाला है। आइए जानते हैं कि इस मैच की ज्योतिषीय भविष्यवाणी आख़िर क्या कहती है।

यदि आप क्रिकेट और आईपीएल से जुड़ी भविष्यवाणियों के नोटिफ़िकेशन अपने मोबाइल फ़ोन पर पाना चाहते हैं, तो कृपया देखें–
क्रिकेट की भविष्यवाणियाँ सब्सक्राइब करें

DC Vs KKR

दिल्ली कैपिटल्स बनाम कोलकाता नाइट राइडर्स मैच की ज्योतिषीय भविष्यवाणी

दिल्ली कैपिटल्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच होने वाले आज के मैच की भविष्यवाणी प्रश्न कुंडली पर आधारित है। यहाँ हम यह स्पष्ट कर देते हैं कि प्रश्न कुंडली हेतु पूछा गया प्रश्न दिल्ली कैपिटल्स के लिए है। इसलिए इस मैच की ज्योतिषीय भविष्यवाणी दिल्ली टीम के ऊपर प्रभावी होगी। ज्योतिष विज्ञान में इस तरह की भविष्यवाणी को देखने के लिए लग्न भाव और षष्टम भाव तथा इन दोनों भावों के स्वामियों को देखा जाता है। ऊपर दी गई कुंडली में हमने कर्क राशि को लग्न राशि के रूप लिया है। ऐसा इसलिए, क्योंकि दिल्ली टीम के नाम के हिसाब से कर्क राशि आती है।

लग्न भाव में लग्न के स्वामी चंद्रमा की सातवें भाव से दृष्टि है। यह स्थिति लग्न भाव के लिए शुभ है। इसके साथ ही अन्य कोई भी क्रूर ग्रह लग्न को नहीं देख रहा है। यह स्थिति दर्शाती है कि कुंडली का लग्न भाव मजबूत स्थिति में है। उधर, लग्न का स्वामी चंद्रमा सप्तम भाव में स्थित है जो मारक भाव में है। यह भाव चंद्रमा को कमज़ोर कर रहा है। इसके अलावा चंद्रमा शनि की राशि में स्थित है। इसके द्वारा भी चंद्रमा की स्थिति नाजुक है।

दिल्ली कैपिटल्स बनाम कोलकाता नाइट राइडर्स

वहीं छठे भाव भाव को देखें तो इसमें शनि, केतु और बृहस्पति तीनों स्थित हैं। इस भाव में शनि और केतु की युति कुंडली में शापित दोष बना रही है जो छठे भाव के लिए शुभ नहीं है। इसके साथ ही ग्यारहवें भाव से मंगल की दृष्टि छठे भाव को कमज़ोर कर रही है। दोनों ही स्थितियाँ छठे भाव की कमज़ोरी को प्रदर्शित कर रही हैं। वहीं छठे भाव का स्वामी गुरु अपने भाव में ही बैठा है जो भले ही गुरु के लिए अच्छा हो लेकिन शनि और केतु का साथ उसे कमज़ोर कर रहा है। वैदिक ज्योतिष के आधार पर कुंडली का आँकलन करने पर यह परिणाम निकलता है कि इस मैच में दिल्ली कैपिटल्स को कोलकाता नाइट राइडर्स के हाथों हार का सामना करना पड़ सकता है।

विजेता टीम : इस मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स के जीतने की संभावना है।

क्रिकेट की भविष्यवाणियाँ सब्सक्राइब करें

डिस्क्लेमर:  हम यह स्पष्ट करते हैं कि मैच के संबंध में दी जा रही यह भविष्यवाणी अकादमिक और शोध के उद्देश्य से की गई है। इसके जरिये हम किसी भी तरह के गैरकानूनी कार्य जैसे- सट्टा और मैच फिक्सिंग को बढ़ावा नहीं देते हैं। कृपया इस तरह के गलत कार्यों से बचने की कोशिश करें।

Astrology

Dharma

विष्णु मंत्र - Vishnu Mantra

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

12 Jyotirlinga - 12 ज्योतिर्लिंग

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

सिद्ध कुंजिका स्तोत्र - Kunjika Stotram: दुर्गा जी की कृपा पाने का अचूक उपाय

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

51 Shakti Peeth - 51 शक्तिपीठ

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

बजरंग बाण: पाठ करने के नियम, महत्वपूर्ण तथ्य और लाभ

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.