कोरोना वायरस से चाहते हैं बचना! तो इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए अपनाएं ये आयुर्वेदिक टिप्स!

चीन के वुहान शहर से शुरू हुए कोविड-19 यानि नोवल कोरोना वायरस का संक्रमण 213 से अधिक देशों में पहुंच चुका है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार अभी तक वायरस से संक्रमित लगभग 2,883,603 मामलों की पुष्टि की जा चुकी है, जबकि इस वायरस के कारण करीब 1,98,842 लोगों की मौत हो चुकी है। कई देशों में कोरोना से संक्रमित लाखों लोगों का इलाज चल रहा है, लेकिन अभी भी कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। आज पूरे विश्व के लिए कोरोना वायरस सबसे बड़ा खतरा बन गया है।

जीवन में चल रही है समस्या! समाधान जानने के लिए प्रश्न पूछे 

सोशल मीडिया पर कोरोना वायरस की दवाइयों को लेकर कई तरह के दावे किए जा रहे हैं, लेकिन सच तो यह है कि अभी भी देश-दुनिया के अनुभवी वैज्ञानिक और डॉक्टरों की टीम इस वायरस के लिए दवा का पता लगाने में जुटे हुए हैं। हालाँकि डॉक्टरों का यह भी कहना है कि यदि किसी व्यक्ति के शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता यानि कि इम्युनिटी सिस्टम मज़बूत रहे, तो उस व्यक्ति में इस संक्रमण का ख़तरा कम होता है। हम सभी जानते हैं कि पहले से ही रोकथाम किसी भी बीमारी के इलाज से बेहतर है। दूसरे देशों की तुलना में भारत में हालात अभी भी थोड़े ठीक हैं, लेकिन तेज़ी से बढ़ते संक्रमण को देखते हुए यह कहा जा सकता है कि अगर इस समय लोगों ने सावधानी नहीं बरती, तो आने वाले समय में स्थिति और भी गंभीर हो सकती है, इसीलिए बेहतर होगा कि समय रहते लोग इस संक्रमण की गंभीरता को समझें और कुछ ज़रूरी कदम उठाए।

कोरोना वायरस और आयुर्वेद 

विश्व की प्राचीनतम चिकित्सा प्रणाली “आयुर्वेद” की मदद से करें कोरोना से बचाव!

कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने के लिए भारत सरकार के आयुष मंत्रालय के अनुसंधान परिषदों ने भारतीय पारंपरिक चिकित्सा पद्धति यानि कि आयुर्वेद को फ़िलहाल एकमात्र उपाय बताया है। विज्ञान, कला और दर्शन का मिश्रण आयुर्वेद विश्व की प्राचीनतम चिकित्सा प्रणालियों में से एक है। कुछ आयुर्वेदिक टिप्स आज़माकर आप अपनी इम्यूनिटी तो बढ़ा ही सकते हैं, साथ ही कोरोना वायरस से काफी हद तक बचाव भी कर सकते हैं। तो चलिए आपको कोरोना वायरस से बचाव के लिए कुछ आयुर्वेदिक टिप्स बताते हैं, जो आपको तेजी से फैल रहे इस घातक वायरस से बचा सकते हैं।

आपकी कुंडली में है कोई दोष? जानने के लिए अभी खरीदें एस्ट्रोसेज बृहत् कुंडली 

कोरोना वायरस से बचाव के लिए इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय  

आप अपनी इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए निम्नलिखित चीजों का सेवन कर सकते हैं-

  • अदरक, तुलसी, दालचीनी, काली मिर्च, मुन्नक्का और शहद का काढ़ा या हर्बल चाय पीना काफ़ी मददगार रहेगा। आप इसमें स्वाद के लिए गुड़ या नींबू के रस का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। 
  • इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए गुड़, घी, हल्दी और अदरक पाउडर को मिलाकर आप लड्डू बना सकते हैं। 
  • प्रतिदिन एक या दो बार हल्दी वाला दूध ज़रूर पियें। 
  • हर दिन सुबह एक चम्मच च्यवनप्राश ज़रूर लें। मधुमेह रोगियों को शुगर फ्री च्यवनप्राश का सेवन करना चाहिए। 

रोग प्रतिरोधक कैलकुलेटर से जानें अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता

कोरोना वायरस से बचाव के लिए कुछ सरल आयुर्वेदिक प्रक्रियाएं

  • प्रतिदिन सुबह और शाम के समय तिल का तेल या नारियल का तेल या फिर घी की 2 बूँदें लेट कर अपने नाक में डालें और सांस लेते हुए हल्का सा खींच लें। इसे आयुर्वेद में “प्रतिमर्श नस्य” कहा जाता है। 
  • 1 टेबल स्पून तिल या नारियल का तेल मुंह में डालकर 2 से 3 मिनट के लिए उसे मुंह में घुमाएं और इसके बाद गर्म पानी की मदद से कुल्ला करते हुए इसे थूक दें। इस प्रक्रिया को आयुर्वेद में “ऑयल पुलिंग थेरेपी” कहते हैं। कोरोना वायरस से बचाव के लिए दिन में एक या दो बार इसे ज़रूर करें। 

सूखी खांसी या गले में ख़राश होने पर करें ये उपाय 

  • दिन में एक बार ताज़ा पुदीना के पत्ते या अजवाईन के साथ भाप से साँस लें।
  • खांसी या गले में जलन होने पर लौंग पाउडर को शहद के साथ मिलाकर दिन में 2 से 3 बार लें।
  • ये उपाय आमतौर पर सूखी खांसी और गले में खराश की समस्या होने पर की जाती हैं। लेकिन आपको ज़रा सा भी शक हो या लक्षण दिखे, तो डॉक्टर से तुरंत परामर्श करें।

सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: एस्ट्रोसेज ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

कोरोना वायरस से बचाव के लिए कुछ सामान्य उपाय

  • कोरोना वायरस से बचने के लिए सबसे पहले खुद की स्वच्छता बनाए रखें।
  • दिन भर थोड़ी-थोड़ी देर में गर्म पानी पीते रहें।
  • कम से कम 30 मिनट के लिए योगासन, प्राणायाम और ध्यान का दैनिक अभ्यास करें।
  • खांसी या छींक आने पर अपना चेहरा ढंक लें और छींकने या खांसने के बाद अपने हाथों को साबुन से धो लें।
  • घर से बाहर निकलते समय मास्क का उपयोग करें।
  • अपने हाथों को थोड़ी-थोड़ी देर में साबुन और पानी से कम से कम 20 सेकंड तक धोते रहें। 
  • बार-बार हाथों से अपनी आंखें, नाक और मुंह को न छूएं।
  • संक्रमित लोगों के संपर्क में आने से दूर रहें। 
  • यदि आप बीमार हैं, तो बेहतर होगा कि घर पर ही रहकर आराम करें। 
  • खाना पकाने में लहसुन और मसाले जैसे कि हल्दी, जीरा, धनिया आदि का इस्तेमाल किया करें।
  • यदि संदेह है कि आपको कोरोना वायरस का संक्रमण हो चूका है, तो तुरंत मास्क पहनकर नज़दीकी अस्पताल में जाएं।

आशा करते हैं इस लेख में दी गई जानकारी आपको पसंद आयी होगी।

एस्ट्रोसेज आप सभी के सुरक्षित भविष्य और अच्छी सेहत की मंगलकामना करता है। हम से जुड़े रहने के लिए आपका धन्यवाद। 

कॉग्निएस्ट्रो आपके भविष्य की सर्वश्रेष्ठ मार्गदर्शक

आज के समय में, हर कोई अपने सफल करियर की इच्छा रखता है और प्रसिद्धि के मार्ग पर आगे बढ़ना चाहता है, लेकिन कई बार “सफलता” और “संतुष्टि” को समान रूप से संतुलित करना कठिन हो जाता है। ऐसी परिस्थिति में पेशेवर लोगों के लिये कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट मददगार के रुप में सामने आती है। कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट आपको अपने व्यक्तित्व के प्रकार के बारे में बताती है और इसके आधार पर आपको सर्वश्रेष्ठ करियर विकल्पों का विश्लेषण करती है।

 

इसी तरह, 10 वीं कक्षा के छात्रों के लिए कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट उच्च अध्ययन के लिए अधिक उपयुक्त स्ट्रीम के बारे में एक त्वरित जानकारी देती है।

 

 

 

Spread the love
पाएँ ज्योतिष पर ताज़ा जानकारियाँ और नए लेख
हम वैदिक ज्योतिष, धर्म-अध्यात्म, वास्तु, फेंगशुई, रेकी, लाल किताब, हस्तरेखा शास्त्र, कृष्णमूर्ती पद्धति तथा बहुत-से अन्य विषयों पर यहाँ तथ्यपरक लेख प्रकाशित करते हैं। इन ज्ञानवर्धक और विचारोत्तेजक लेखों के माध्यम से आप अपने जीवन को और बेहतर बना सकते हैं। एस्ट्रोसेज पत्रिका को सब्स्क्राइब करने के लिए नीचे अपना ई-मेल पता भरें-

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.