क्या संजय दत्त की पानीपत तोड़ेगी बॉक्स ऑफिस के सारे रिकॉर्ड ? पढ़ें ज्योतिषीय रिव्यू।

पानीपत: ज्योतिष के अनुसार गणना

  • रिलीज की तारीख: 6 दिसंबर 2019
  • रिलीज का समय:  9:00 बजे सुबह 
  • जगह: मुंबई 

panipat-movie

पानीपत मूवी की प्रश्न कुंडली

नोट – यह गणना वैदिक और अंक ज्योतिष का संयुक्त फल है।

  • अंक ज्योतिष में भाग्यांक 1 का स्वामी ग्रह सूर्य है। वहीं वैदिक ज्योतिष में यह मेष राशि का अंक है जिसका स्वामी ग्रह मंगल है। इसका अर्थ है कि सूर्य, मंगल ग्रह और मेष राशि को देखकर इस फिल्म के भविष्य के बारे में बताया जाएगा। 
  • ऊपर दी गई कुंडली में मेष राशि पांचवें घर में है, इस घर पर बृहस्पति और मंगल की दृष्टि पड़ रही है। बृहस्पति सबसे बड़ा ग्रह है इसकी दृष्टि से जीवन में मिलने वाले परिणामों में इजाफा होता है। मंगल जिसे योद्धा ग्रह के रुप में देखा जाता है, इसकी दृष्टि से आक्रामकता बढ़ती है और संघर्ष और युद्ध जैसे परिणाम इस ग्रह के कारण मिलते हैं। यह फिल्म मराठा और अफगान योद्धाओं के बीच हुए यु्द्धों पर आधारित है। इसलिये कहा जा सकता है कि जिस दिन यह मूवी रिलीज हो रही है वह तारीख फिल्म के लिये अच्छी है। 
  • मंगल ग्रह, मेष राशि का स्वामी है जोकि कुंडली के एकादश भाव में स्थित है। इस भाव को धन भाव भी कहा जाता है। वहीं एकादश भाव में स्थित मंगल ग्रह तुला राशि में स्थित है यह स्थिति अच्छी नहीं कही जा सकती। इस स्थिति की वजह से मंगल ग्रह कमजोर हो रहा है। इससे मूवी के रिलीज होने के बाद कमाई में फर्क पड़ सकता है। 
  • कुंडली में भाग्य स्वामी सूर्य द्वादश भाव में स्थित है, यह स्थिति सूर्य के लिये अनुकूल नहीं कही जा सकती। ज्योतिष शास्त्र में द्वादश भाव सूर्य के लिये मारन स्थान है और इसके कारण सूर्य के अच्छे फल फिल्म को प्राप्त नहीं होंगे। द्वादश भाव विदेशी व्यापार का भाव भी होता है इसलिये भारत से बाहर इस फिल्म को आर्थिक रुप से बहुत फायदा नहीं मिलेगा।  
  • ऊपर दी गई कुंडली मेें सबसे मजबूत पक्ष बृहस्पति ग्रह का प्रथम यानि लग्न भाव में विराजमान होना है। 
  • जरुरी नोट: कुंडली में ध्यान देने वाली बात यह है कि चौथे भाव में दिगबली चंद्रमा स्थित है। चंद्रमा चौथे घर में भावनाओं, हमारी पसंद, भड़कीलेपन और खुशी को दर्शाता है। इसलिये यह फिल्म दर्शकों के दिल को जरुर छुएगी। इसके साथ ही फिल्म में इस्तेमाल की गई तड़क-भड़क लोगों को पसंद आएगी। 
  • ज्योतिष के जानकारों के लिये: सूर्य भाग्य स्वामी है और मेष राशि पर मंगल का स्वामित्व है। यह दोनों ही ग्रह ज्योतिष शास्त्र में उग्र ग्रह माने जाते हैं। सूर्य और मंगल की युति युद्ध, संघर्ष, आक्रामकता की स्थिति पैदा करती है। इसलिये कहा जा सकता है कि फिल्म के कथानक के अनुसार फिल्म की रिलीज की तारीख सही है। सूर्य और मंगल दोनों ही क्रूर और उग्र ग्रह हैं इसलिये इस फिल्म में खलनायक की अब्दाली की भूमिका निभा रहे संजय दत्त इस फिल्म का मुख्य आकर्षण होंगे। संजय दत्त के काम को सराहा जाएगा और उनको अच्छी प्रतिक्रियाएं मिलेंगी।  
  • कुल मिलाकर कहें तो यह मूवी सूपर-डूपर हिट तो साबित नहीं होगी लेकिन इसे एक बार देखा जा सकता है। I

ज्योतिष से जुडें उपायों और यंत्र आदि खरीदने के लिये हमारी वेबसाईट विजिट करें- ऐस्ट्रोसेज ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर 

हमारी ओर से पानीपत मूवी की टीम को शुभकामनाएं।

Spread the love
पाएँ ज्योतिष पर ताज़ा जानकारियाँ और नए लेख
हम वैदिक ज्योतिष, धर्म-अध्यात्म, वास्तु, फेंगशुई, रेकी, लाल किताब, हस्तरेखा शास्त्र, कृष्णमूर्ती पद्धति तथा बहुत-से अन्य विषयों पर यहाँ तथ्यपरक लेख प्रकाशित करते हैं। इन ज्ञानवर्धक और विचारोत्तेजक लेखों के माध्यम से आप अपने जीवन को और बेहतर बना सकते हैं। एस्ट्रोसेज पत्रिका को सब्स्क्राइब करने के लिए नीचे अपना ई-मेल पता भरें-

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.