RCB Vs SRH (4th May): IPL 2019 आज के मैच की भविष्यवाणी

आईपीएल 2019 में 4 मई को आरसीबी और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच भिड़ंत होगी। यह मुकाबला बैंग्लोर के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में भारतीय समयानुसार रात 8 बजे से खेला जाएगा। रॉयल चैलेंजर्स बैंग्लोर प्ले ऑफ़ की दौड़ से पहले ही बाहर हो चुकी है। लेकिन सनराइजर्स हैदराबाद की उम्मीदें अभी बरक़रार हैं। ऐसे में अगर आरसीबी अपने होम ग्राउंड पर सनराइजर्स हैदराबाद को हरा देती है तो उसकी सारी उम्मीदों पर पानी फिर सकता है। इसलिए क्वालिफ़ायर्स के लिए हैदराबाद टीम को हर क़ीमत पर यह मुकाबला जीतना ही होगा। इस सीज़न में दोनों के बीच हुए पिछले मुकाबले में हैदराबाद ने बैंग्लोर को 118 रनों से हराया था और इस मुकाबले को जीतने के लिए उसे फिर से शानदार प्रदर्शन करना होगा। बहरहाल, ज्योतिषीय भविष्यवाणी की मदद से जानते हैं इस मैच का परिणाम आख़िर क्या रहने वाला है।

2019-05-01

यदि आप क्रिकेट और आईपीएल से जुड़ी भविष्यवाणियों के नोटिफ़िकेशन अपने मोबाइल फ़ोन पर पाना चाहते हैं, तो कृपया देखें–
क्रिकेट की भविष्यवाणियाँ सब्सक्राइब करें

रॉयल चैलेंजर्स बैंग्लोर बनाम सनराइजर्स हैदराबाद के बीच होने वाले मैच की ज्योतिषीय भविष्यवाणी

रॉयस चैलेंजर्स बैंगलोर और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच होने वाले मैच की भविष्यवाणी प्रश्न कुंडली पर आधारित है। यहाँ हम यह स्पष्ट कर देते हैं कि प्रश्न कुंडली के लिए पूछा गया प्रश्न सनराइजर्स हैदराबाद के लिए है। इसलिए आज के मैच की ज्योतिषीय भविष्यवाणी सनराइजर्स हैदराबाद के ऊपर प्रभावी होगी। ज्योतिष विज्ञान में इस तरह की भविष्यवाणी को देखने के लिए लग्न भाव, लग्नेश, षष्ठम भाव और षष्ठम भाव के स्वामी का विचार किया जाता है।

54th-ipl-hi

लग्न भाव : कुंडली के लग्न भाव में शुभ ग्रह बृहस्पति बैठा है। साथ ही यहाँ लग्न भाव के स्वामी मंगल की भी दृष्टि है। इन दोनों कारणों से कुंडली का लग्न भाव बेहद मजबूत स्थिति में है।

लग्नेश : वहीं लग्न भाव का स्वामी मंगल कुंडली के सप्तम भाव में वृषभ राशि में बैठा है। यह स्थान मंगल के लिए शुभ है। यानि कुंडली में लग्नेश मजबूत स्थिति में है।

षष्ठम भाव : कुंडली के छठे भाव में सूर्य उच्च का है। यानि यह स्थिति सूर्य ग्रह के बली होने को दर्शाती है। इसके अलावा यहाँ सूर्य और बुध की युति से बुधादित्य योग का निर्माण कर रही है। इसके कारण भी कुंडली का छठा भाव मजबूत स्थिति में है।

षष्ठमेष : कुंडली के छठे भाव और लग्न भाव का स्वामी मंगल ही है और जैसा कि हमने ऊपर बताया है कि कुंडली में सप्तम भाव में बैठा मंगल अपनी मजबूत स्थिति में है।

उपरोक्त चारों पैमानों का ज्योतिषीय आकलन यह बता रहा है कि इस मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद मेजबान रॉयल चैलेंजर्स बैंग्लोर पर हावी रहेगी।

विजेता टीम : इस मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद के जीतने की प्रबल संभावना है।

क्रिकेट की भविष्यवाणियाँ सब्सक्राइब करें

डिस्क्लेमर : हम यह स्पष्ट करते हैं कि मैच के संबंध में दी जा रही यह भविष्यवाणी अकादमिक और शोध के उद्देश्य से की गई है। इसके जरिये हम किसी भी तरह के गैरकानूनी कार्य जैसे- सट्टा और मैच फ़िक्सिंग को बढ़ावा नहीं देते हैं। कृपया इस तरह के गलत कार्यों से बचने की कोशिश करें।

Spread the love

Astrology

Dharma

विष्णु मंत्र - Vishnu Mantra

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

12 Jyotirlinga - 12 ज्योतिर्लिंग

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

सिद्ध कुंजिका स्तोत्र - Kunjika Stotram: दुर्गा जी की कृपा पाने का अचूक उपाय

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

51 Shakti Peeth - 51 शक्तिपीठ

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

बजरंग बाण: पाठ करने के नियम, महत्वपूर्ण तथ्य और लाभ

विष्णु मंत्र का प्रयोग सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु जी की आराधना के लिए होता है। जिस ...

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.