जानें सावन सोमवार का महत्व और प्रमुख सोमवार की तिथियां !

सावन माह की शुरुआत के साथ ही शिव भक्तों में शिव जी की पूजा अर्चना की एक होड़ सी लग जाती है। 17 जुलाई से आरंभ होकर 15 अगस्त को समाप्त होने वाले सावन माह में विशेष रूप से हर सोमवार को भोलेनाथ की ख़ास पूजा अर्चना की जाती है। यहाँ हम आपको सावन के प्रत्येक सोमवार की तिथियां और उसके महत्व के बारे में बताने जा रहे हैं।

सावन के इस पवित्र माह में मुख्य रूप से चार सोमवार पड़ रहे हैं। ये समय शिव भक्ति के लिए ख़ासा महत्वपूर्ण माना जाता है। शिव भक्तों में सावन के दौरान विशेष उल्लास देखने को मिलता है और भक्त शिव भक्ति में लीन रहते हैं। इस साल सावन के प्रमुख चार सोमवार की तिथियों के बारे में हम आपको बता रहे है। यहाँ आप प्रत्येक दिन के महत्व की जानकारी भी प्राप्त कर सकते हैं।

सावन का पहला सोमवार

बता दें कि सावन का पहला सोमवार 22 जुलाई 2019 को है। ऐसी मान्यता है कि सावन के पहले सोमवार के दिन यदि व्रत रखकर शिव जी की विधि पूर्वक पूजा अर्चना करें, तो ऐसा करने से जीवन में आने वाली बाधाओं से मुक्ति मिलती है। इसके साथ ही यदि इस दिन किसी काम की शुरुआत की जाए तो उसमें सफलता जरूर मिलती है।

सावन का दूसरा सोमवार

सावन का दूसरा सोमवार 29 जुलाई 2019 को पड़ रहा है। दूसरे सोमवार के दिन भगवान् शिव की पूजा अर्चना करने से स्वास्थ्य संबंधी बाधाओं से मुक्ति मिल सकती है। सावन के दूसरे सोमवार के दिन व्रत रखने के साथ ही विशेष रूप से शिव जी को भांग, धतूरा और शहद चढ़ाने से स्वास्थ्य लाभ मिलता है।

सावन का तीसरा सोमवार

इस साल सावन का तीसरा सोमवार 5 अगस्त 2019 को है। तीसरे सोमवार को खासतौर से भगवान् शिव की साधना और भक्ति में लीन रहने का दिन माना जाता है। इस दिन व्रत रखकर और भगवान् शिव के विशेष मंत्रों का जाप कर उनका ख़ास आशीर्वाद पाया जा सकता है। सावन के तीसरे सोमवार के दिन शिव भक्तों को मुख्य रूप से विभिन्न शिव मंत्रों के साथ ही शिव पुराण और शिव चालीसा का पाठ भी करना चाहिए।

सावन का चौथा सोमवार

सावन का चौथा और आखिरी सोमवार 12 अगस्त 2019 को है। इस दिन मुख्य रूप से शिव भक्ति में लीन रहकर आप जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में आने वाली बाधाओं से निजात पा सकते हैं। इसके साथ ही शिव जी का आशीर्वाद आपके सभी कामों को सरल बना देगा। आखिरी सोमवार के दिन शिव जी पूजा आराधना कर आप आर्थिक परेशानियों से भी निजात पा सकते हैं।

Spread the love
पाएँ ज्योतिष पर ताज़ा जानकारियाँ और नए लेख
हम वैदिक ज्योतिष, धर्म-अध्यात्म, वास्तु, फेंगशुई, रेकी, लाल किताब, हस्तरेखा शास्त्र, कृष्णमूर्ती पद्धति तथा बहुत-से अन्य विषयों पर यहाँ तथ्यपरक लेख प्रकाशित करते हैं। इन ज्ञानवर्धक और विचारोत्तेजक लेखों के माध्यम से आप अपने जीवन को और बेहतर बना सकते हैं। एस्ट्रोसेज पत्रिका को सब्स्क्राइब करने के लिए नीचे अपना ई-मेल पता भरें-

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.