मंगल के धनु राशि में गोचर से सभी 12 राशियों पर क्या पड़ेगा प्रभाव

2020 में मंगल का पहला राशि परिवर्तन इन राशियों के लिए है बेहद शुभ!

8 फरवरी, शनिवार को प्रात 02 बजकर 45 मिनट पर (7 फरवरी की मध्यरात्रि के बाद) मंगल ग्रह का इस साल का पहला गोचर है। इस दौरान मंगल ग्रह धनु राशि में प्रवेश करने वाला है। इससे गुरु, मंगल और केतु इन तीनों ग्रहों का संयोग बनने वाला है। ऐसे में माना जा रहा है कि इन तीनों ग्रहों के इस संयोग से लोगों में कुछ उन्माद हो सकता है। इसके अलावा इस गोचर के प्रभाव से ऐसा भी माना जा रहा है कि देश में कुछ अप्रिय घटनाएं, अर्थव्यवस्था में उथल-पुथल, भी मच सकती है। धनु राशि को मंगल के मित्र बृहस्पति और अग्नि तत्व की राशि माना गया है। यानि कि इस लिहाज़ से इस गोचर में एक अग्नि तत्त्व प्रधान ग्रह का प्रवेश एक अग्नि तत्व प्रधान राशि में होने वाला है। तो आईये जानते हैं कि मंगल के धनु राशि में गोचर का सभी राशि के जातकों पर किस प्रकार का असर पड़ने वाला है।

यह भविष्यफल चंद्र राशि पर आधारित है। अपनी चंद्र राशि जानने के लिए क्लिक करें: चंद्र राशि कैलकुलेटर

जानें आपके साल 2020 का हाल – वार्षिक कुंडली 2020

मेष राशि 

मंगल आपकी राशि का स्वामी होने के साथ-साथ आपकी कुंडली में अष्टम भाव का स्वामी भी है और अपने इस गोचर की अवधि में वह आपके नवम भाव में प्रवेश करेगा। इस गोचर के परिणाम स्वरूप आपको मिले जुले परिणाम हासिल होंगे……..आगे पढ़ें

वृषभ राशि 

वृषभ राशि के जातकों के लिए मंगल देव आपके सातवें और बारहवें भाव के स्वामी होकर आपके अष्टम भाव में प्रवेश करेंगे। इस प्रकार गोचर का यह प्रभाव आपके स्वास्थ्य के लिहाज से अधिक अनुकूल……..आगे पढ़ें

love-report-hi

मिथुन राशि 

मंगल देव का गोचर आपकी राशि से सातवें भाव में होगा। यह आपकी राशि के लिए छठे और ग्यारहवें भाव के स्वामी हैं। इनके गोचर के प्रभाव से आपको व्यापार में अच्छी सफलता प्राप्त होगी और आप कुछ नई योजनाओं पर भी काम करेंगे, जो भविष्य में……..आगे पढ़ें

कर्क राशि 

आपकी राशि के लिए मंगल केंद्र और त्रिकोण भाव अर्थात दसवें भाव और पाँचवें भाव का स्वामी है, इसलिए योगकारक की भूमिका निभाता है और अपने गोचर के इस काल में आपके छठे भाव में प्रवेश करेगा, जिसकी वजह से आपको अपने पुराने किसी ऋण या लोन को चुकाने में सफलता मिलेगी और आप राहत की सांस लेंगे……..आगे पढ़ें

सिंह राशि 

आपकी राशि के लिए मंगल देव का गोचर आपके पांचवें भाव में होगा। मंगल आप के चौथे भाव और नवें भाव अर्थात केंद्र और त्रिकोण भाव के स्वामी होकर योगकारक ग्रह हैं। उनका यह गोचर आप के लिए काफी अनुकूल रहने वाला है। इस दौरान कार्यक्षेत्र में बदलाव आ सकता है……..आगे पढ़ें

कन्या राशि 

कन्या राशि के लोगों के लिए मंगल तीसरे और आठवें भाव का स्वामी होता है और धनु राशि में गोचर के चलते आपके चौथे भाव में प्रवेश करेगा। इस गोचर के परिणाम स्वरूप आपके परिवार में माहौल बदलेगा और लोगों के बीच तालमेल का अभाव देखने को मिल सकता है। आपके माता-पिता का स्वास्थ्य भी……..आगे पढ़ें

तुला राशि 

आपकी राशि के लिए मंगल देव दूसरे और सातवें भाव के स्वामी हो कर मारक ग्रह भी कहलाते हैं और अपने गोचर की इस अवधि में वे आप के तीसरे भाव में प्रवेश करेंगे। आम तौर पर तीसरे भाव में मंगल का गोचर अनुकूल परिणाम देने वाला माना जाता है। इस गोचर के प्रभाव से……..आगे पढ़ें

वृश्चिक राशि 

मंगल ग्रह आपकी राशि का स्वामी होने के साथ-साथ आप के छठे भाव का स्वामी भी है और अपने गोचर की इस अवधि में वह आपके दूसरे भाव में प्रवेश करने वाला है। इस गोचर के प्रभाव से आपकी वाणी में बदलाव आएगा। आप कुछ कटु वचन भी बोल सकते हैं, जिसका असर आपके संबंधों पर पड़ सकता है……..आगे पढ़ें

धनु राशि 

आपकी राशि के लिए मंगल ग्रह पांचवे भाव तथा बारहवें भाव का स्वामी है और अपने गोचर की स्थिति में आपकी ही राशि में प्रवेश करेगा, जिसकी वजह से इस गोचर का सर्वाधिक प्रभाव आप पर पड़ेगा……..आगे पढ़ें

मकर राशि 

आपकी राशि के लिए मंगल चौथे भाव के साथ-साथ ग्यारहवें भाव का स्वामी भी है और आपकी राशि के लिए बाधक भी बनता है। अपने गोचर की इस अवधि में वह आपके बारहवें भाव में प्रवेश करेगा……..आगे पढ़ें

कुंभ राशि 

आपकी राशि के लिए मंगल देव आपके तीसरे और दसवें भाव के स्वामी हैं और अपने धनु राशि में प्रवास के दौरान वह आपके ग्यारहवें भाव में प्रवेश करेंगे। चूंकि ये आपके कर्म भाव के स्वामी भी हैं, इसलिए यह गोचर आपके लिए काफी महत्वपूर्ण फल लेकर आ रहा है……..आगे पढ़ें

मीन राशि

आपकी राशि के लिए मंगल दूसरे और नवें भाव का स्वामी है और अपने गोचर की इस अवधि में वह आपके दसवें भाव में गोचर करेंगे। इस गोचर का जबरदस्त लाभ आपको मिलेगा और कुछ लोगों को स्थानांतरण भी मिलेगा……..आगे पढ़ें

Spread the love
पाएँ ज्योतिष पर ताज़ा जानकारियाँ और नए लेख
हम वैदिक ज्योतिष, धर्म-अध्यात्म, वास्तु, फेंगशुई, रेकी, लाल किताब, हस्तरेखा शास्त्र, कृष्णमूर्ती पद्धति तथा बहुत-से अन्य विषयों पर यहाँ तथ्यपरक लेख प्रकाशित करते हैं। इन ज्ञानवर्धक और विचारोत्तेजक लेखों के माध्यम से आप अपने जीवन को और बेहतर बना सकते हैं। एस्ट्रोसेज पत्रिका को सब्स्क्राइब करने के लिए नीचे अपना ई-मेल पता भरें-

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.